आज फिर तुम हमें याद आने लगे…

Please follow and like us:
Facebook
Facebook
Instagram
Google+
https://shaiiljoharri.in/2018/12/%e0%a4%86%e0%a4%9c-%e0%a4%ab%e0%a4%bf%e0%a4%b0-%e0%a4%a4%e0%a5%81%e0%a4%ae-%e0%a4%b9%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%af%e0%a4%be%e0%a4%a6-%e0%a4%86%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%b2%e0%a4%97%e0%a5%87/
LinkedIn
YouTube
Follow by Email
RSS

गीत – 

आज फिर बारिशों की है महफ़िल सजी,
आज फिर तुम हमें याद आने लगे,
जल में भीगा बदन, प्रेम में भीगा मन,
दिल में जलती अगन को बढ़ाने लगे।

ख़ास कितना वो एहसास था ओ प्रिये,
इश्क़ ऐसा हमें भी हुआ था कभी,
फूल अब तक वो हमने सहेजा हुआ,
जिसको तुमने लबों से छुआ था कभी,
पंखुड़ी पे गिरी बूंद जब मेह की, (मेह – बरसात)
मन भ्रमर मिलके अनुराग गाने लगे।।

आज फिर बारिशों की है महफ़िल सजी……

दिल हमारा हमीं से संभलता नहीं,
कनखियों से हमें अब निहारो न यूँ,
इस शरारत भरी मंद मुस्कान संग,
उलझी उलझी लटों को संवारो न यूँ,
ऐसे फेरो न तुम ज़ुल्फ़ में उंगलियां,
रश्मियां ज्यों गगन चमचमाने लगे।।

आज फिर बारिशों की है महफ़िल सजी…..

याद तुमसे वो पहली मुलाक़ात है,
साथ चलते हुए उंगलियों की छुअन,
कांपते लव से वो कुछ तेरा बोलना,
झुकती पलकों पे हम छोड़ आये थे मन,
देखा तुझको तो खुद को यूं विस्मृत किया,
नाम तेरा लवों पे सजाने लगे।।

आज फिर बारिशों की है महफ़िल सजी….

आंख में तेरी काजल की रेखा सजे,
जैसे बादल रचें परिधियाँ व्योम की,
बूंद बारिश की गालों पे ऐसे लगें,
ओस की बूंद फूलों पे मासूम सी,
वृष्टि जब लब तुम्हारे यूँ छूने लगे,
लब मेरे आप ही कंपकपाने लगे।।

आज फिर बारिशों की है महफ़िल सजी….

रूप यौवन तुम्हें जो रति ने दिया,
काम सा क्या हमें प्यार करती हो तुम ?
लाली आंखों की भी तेरा गहना लगे,
आंसुओं से भी श्रृंगार करती हो तुम,
भीगी पलकों में हम भीग ना जाएं यूँ,
पानी पानी जवानी सताने लगे।

आज फिर बारिशों की है महफ़िल सजी…..

शैल जौहरी “साहिल”

Please follow and like us:
Facebook
Facebook
Instagram
Google+
https://shaiiljoharri.in/2018/12/%e0%a4%86%e0%a4%9c-%e0%a4%ab%e0%a4%bf%e0%a4%b0-%e0%a4%a4%e0%a5%81%e0%a4%ae-%e0%a4%b9%e0%a4%ae%e0%a5%87%e0%a4%82-%e0%a4%af%e0%a4%be%e0%a4%a6-%e0%a4%86%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%b2%e0%a4%97%e0%a5%87/
LinkedIn
YouTube
Follow by Email
RSS

One thought on “आज फिर तुम हमें याद आने लगे…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enjoy this blog? Please spread the word :)

error: Content is protected !!