मसरूफ़ियत : ज़िन्दगी से फुर्सत के कुछ पल चुराने की जद्दोजेहेद …

मसरूफ़ियत (Masroofiyat) लहरों पे चलते चलते, यूँ दूर निकल आये, अब ठहरे समंदर के साहिल को…

Enjoy this blog? Please spread the word :)

error: Content is protected !!